उजियारपुर प्रखंड को विभिन्न पंचायतों से जोड़ने वाली सड़कों का बुरा हाल, कोई देखने वाला नहीं।

उजियारपुर प्रखंड मुख्यालय को प्रखंड के विभिन्न पंचायतों से जोड़ने वाली सड़कों का स्थिति दयनीय है। बरसात के मौसम में सड़कों पर लोगों का चलना मुश्किल हो रहा है। इन सड़कों पर बड़ी बड़ी गढ्ढा होने के कारण वर्षा का पानी इन गड्ढों में लगी हुई रहती है। जिसके कारण इन सड़कों पर लोगों का चलना मुश्किल हो रहा है।

बेलारी से उजियारपुर मार्केट, थाना और रेलवे स्टेशन होते हुए प्रखंड मुख्यालय के साथ अस्पताल, प्रखंड शिक्षा कार्यालय, सातनपुर चौक और नेशनल हाईवे को जोड़ने वाली सड़कों पर चलने में लोगों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन इसको देखने वाला कोई नहीं है।

Join Telegram channel

उजियारपुर रेलवे स्टेशन से स्टेशन के पूर्वी गुमती तक लगभग आधा किलोमीटर तक रोड कि स्थिति काफी खराब है। इसी प्रकार एसएच 55 से मुरीयारो, पतैली धमुआ चौक से उजियारपुर, चंदौली चौक से उजियारपुर और बेलारी से उजियारपुर के बीच सड़क की स्थति बहुत ही खराब है।

सरकार सिर्फ भाषण देकर ही वाहवाही बटोरने का काम करती है असल में काम हो या न हो उससे कोई मतलब नहीं रखती है। उजियारपुर के माननीय विधायक अलोक कुमार मेहता जी इन सड़कों से होकर आए और गए हैं इसके बावजूद भी इन सड़कों को दुरुस्त कराने की कोशिश नहीं किए है।

और पढ़ें।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial