पियुष गोयल: बैटरी से चलने वाली ड्यूल मोड शंटिग लोकों “नवदूत” का सफल परीक्षण, बैटरी से दौड़ेगी नवदूत ट्रेन

Navdoot

नवदूत: भारतीय रेलवे ने लाॅकडाउन के बीच घाटे में चल रहे अर्थव्यवस्था के बावजूद बहुत बड़ी कामयाबी हासिल की है। कुछ दिनों पहले भारतीय रेलवे ने 251 बोगियों के साथ मालगाड़ी ट्रेन “शेषनाग” का सफल परीक्षण किया था जिसकी लंम्बाई 2.8 किलोमीटर थी।

उसके बाद भारतीय रेलवे ने बैटरी से चलने वाली ट्रेन “नवदूत” ट्रेन इंजन का भी सफल परीक्षण किया है। भारतीय रेलवे की इस उपलब्धि के बाद इस ट्रेन के संचालन के लिए कम खर्च में अधिक अधिक कमाई किया जा सकेगा।

Join Telegram channel

पियुष गोयल ने ट्वीट करके इस ट्रेन के सफल संचालन का विडियो शेयर किया है साथ ही उन्होंने बताया है कि रेलवे के जबलपुर मंडल में बैटरी से चलने वाले ड्यूल मोड शंटिंग लोको ‘नवदूत’ का निर्माण किया गया है जिसका परीक्षण सफल रहा।

बैटरी से ऑपरेट होने वाला यह लोको एक उज्ज्वल भविष्य का संकेत है, जो डीजल के साथ विदेशी मुद्रा की बचत, और पर्यावरण संरक्षण में एक बड़ा कदम होगा।

नवदूत ट्रेन के आने से डिजल और बिजली की बचत तो होगी ही साथ में डीजल इंजन के कारण उत्पन्न होने वाली प्रदुषण से भी छुटकारा मिलेगा। जिससे पर्यावरण का संरक्षण हो पाएगा।

नवदूत ट्रेन इंजन का निर्माण पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर मंडल में किया गया है। जो ड्यूल मोड शंटिग लोकों इंजन है। इसका परीक्षण भी जबलपुर स्टेशन पर किया गया है।

और पढ़ें।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial