भारत में बैन हो सकती है VPN सर्विस, वर्क फ्रॉम होम वालों पर पड़ सकता है काफी असर

हम लोग में से अधिकतर लोग अपने लैपटॉप या स्मार्टफोन में वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क VPN सर्विस का इस्तेमाल इसलिए करते हैं क्योंकि काफी ऐसी कंपनीयां है जिसे भारत ने बैन कर रखा है। ऐसे में लोग VPN का सहारा लेकर उस कपनियों के वेबसाईट या एप्स को एक्सेस कर पाते है। लेकिन साइबर अपराधी इसका गलत फायदा उठाने के लिए भी इस्तेमाल करते रहते हैं और यही वजह है कि भारत में अब ये सर्विस बंद की जा सकती है।

गृह मंत्रालय से जुड़ी संसद की स्टैंडिंग कमेटी ने VPN सर्विस को बंद करने के लिए केंद्र सरकार से सिफारिश की है क्योंकि इससे साइबर क्राइम बढ़ने का खतरा होत है। रिपोर्ट्स के मुताबिक VPN के जरिए साइबर अपराधी गुप्त तरीके से ऑनलाइन रहते हैं और ऐसे में उनकी लोकेशन का पता लगाना मुश्किल होता है। इस चीज को ध्यान में रखते हुए संसदीय समिति की ओर से एक सिफारिश की गई है कि इंटरनेशनल एजेंसियों की मदद से ऐसा कोई मैकेनिज्म अपनाया जाए ताकि इन VPN सर्विस को पूरी तरह से बैन किया जा सके।

Join Telegram channel

फिलहाल इसे बंद करने को लेकर कोई तिथी तय नहीं हुई है लेकिन सिफारिश के बाद माना जा रहा है कि सरकार जल्द ही इस दिशा में कोई कदम उठा सकती है। VPN एक ऐसी वर्चुअल सर्विस है जिसके जरिए कोई यूजर अपने प्राइवेट नेटवर्क के जरिए पब्लिक इंटरनेट कनेक्शन के साथ लिंक कर सकता है। इस दौरान जब आप कुछ सर्च करते हैं तो ये आपकी विजिट की हुई साइट्स को आपके फोन या लैपटॉप के सर्वर की तरह ही दिखाता है लेकिन आपका रियल लोकैशन के जगह आपके VPN नेटवर्क का लोकैशन दिखाता है।

जिसके कारण खतरा ये है कि आप खुद के आईपी एड्रेस के साथ नहीं आते हैं बल्कि VPN सर्वर के जरिए नेटवर्क में एंटर करते हैं। इससे आपकी लोकेशन का पता लगाना मुश्किल हो जाता है और आप लोकेशन बदल सकते हैं। VPN अगर भारत में बंद होता है तो कोरोना काल में ज्यादातर कंपनियां वर्क फ्रॉम होम मोड में चली गई थीं और जो कर्मचारी घर बैठकर कंपनी के लिए काम कर रहे हैं। उनका कंपनीयो के वेबसाईट से कनेक्शन को बंद कर देगा।

ऐसे में जो लोग घर बैठे वर्क फर्म होम कर रहे है उनका काम करना मुस्किल हो जाएगा। यही वजह रही है की वर्ष 2021 में VPN के इस्तेमाल में काफी इजाफा हुआ है और पिछले साल की तुलना में 2021 की पहली छमाही में 600 प्रतिशत तक का इजाफा देखने को मिला है। जैसे की आपको भी पता है चीन की कंपनियों को भारत सरकार ने भारत में बैन कर रखा है ऐसे में लोग VPN का सहारा लेकर चाइनिज कंपनियों के साथ काम करते है। अगर VPN बंद होता है तो वैसे लोग जो VPN की मदद से काम कर रहे है उनका काम करना मुस्किल हो जाएगा।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial