उजियारपुर: माले करकर्ताओ ने विभिन्न मांगों को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ किया धरान प्रदर्सन

उजियारपुर प्रखंड के चैता दक्षिणी शाखा के तत्वावधान में रविवार को सामाजिक दूरी का पालन करते हुए माले कार्यकर्ताओं ने बाढ़ की पानी से बर्बाद हो रहे फसलों की पूर्ण मुआवजा देने संबंधी, मवेशियों का चारा की व्यवस्था करने, जल निकासी एवं जलजमाव के कारण फैलने वाले बीमारियों की रोकथाम एवं कुछ अन्य मांगों के साथ धरना प्रदर्शन किया।

धरना को संबोधित करते हुए प्रखंड सचिव कॉमरेड महावीर पोद्दार ने बताया कि विभूतिपुर प्रखंड के वैती नदी का बान्ध टूटने से नदी का पानी उल्टा बहते हुए चैता और विरनामा चौर में घुस रहा है। 15 दिनों से पानी का बहाव होने के कारण चैता और विरनामा के लगभग 500 किसानों के 2000 एकड़ में लगे धान,सब्जी का फसल डूब गया है। जलजमाव से गन्ना का फसल भी नुकसान हुआ है। जिसके कारण किसानों को लाखों रूपये का फसल बर्बाद हो गया है।

Join Telegram channel

लेकिन अभी तक सरकार की कोई भी कर्मचारी और अधिकारी किसानों की सुधि लेने नहीं पहुंची है। इन सब मांगों को लेकर माले सचिव ने प्रखंड कार्यलय पर धरना प्रदर्शन करने की भी घोषणा की है। वही धरना प्रदर्शन स्थल पर सूरज सहनी, आशोक यादव, घुरण सहनी, बलराम सहनी, पंकज कुमार सहनी ,उर्मिला देवी , सीता देवी, विमल कुमार दास, शोभित सहनी और भी कई लोग मौजूद थे।

source: Mahavir Poddar

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial