समस्तीपुर न्यूज: कल्याणपुर में बाढ़ पीड़ितों को पेयजल और शौचालय की नहीं रहेगी समस्या !

कल्याणपुर/संवाददाता: कल्याणपुर में बाढ़ पीड़ितों को पेयजल और शौचालय की नहीं रहेगी समस्या! प्रखंड क्षेत्र में, बागमती नदी की बाढ़ से बाढ़ग्रस्त क्षेत्र में 22 पंचायत बाढ़ से प्रभावित हुई हैं, जिसमें कालोजर, नामपुर, सैदपुर, मलिनगर, सोरमार, चकमासी, भिलाई, तराई, खरसांदेवी, खरसांदवेस्ट, बरहेटा, आदि आदि पंचायत शामिल हैं। इन सभी पंचायतों के 2 लाख से अधिक लोग बाढ़ की समस्या का सामना कर रहे हैं। हजारों लोग बाढ़ से विस्थापित हो गए हैं और बागमती नदी और समस्तीपुर दरभंगा मुख्य मार्ग के किनारे टेंट लगाकर रात बिताई है।

पीएचइडी से बाढ़ पीड़ितों के लिए 38 चापाकल व 118 शौचालय का किया गया व्यवस्था

बाढ़ पीड़ितों के लिए पीने के पानी और शौचालय की सबसे बड़ी समस्या थी, क्षेत्र में बाढ़ के कारण, क्षेत्र के सभी पानी के डूबने के कारण, बाढ़ पीड़ितों को पानी की बहुत समस्या का सामना करना पड़ता था। वहीं, बाढ़ पीड़ित शौचालय की समस्या से भी जूझ रहे थे। बता दें कि बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए अंचल अधिकारी द्वारा तटबंध पर एक कार्यकर्ता को नियुक्त किया गया था। ताकि बाढ़ पीड़ितों को कोई परेशानी न हो। हालांकि, बाढ़ पीड़ितों की समस्या से अवगत होने पर तटबंध पर प्रतिनियुक्त कर्मियों द्वारा विभाग को रिपोर्ट दी गई थी।

Join Telegram channel

जिला अधिकारी के निर्देशानुसार लोक स्वास्थ्य प्रभाग समस्तीपुर के कार्यपालक अभियंता द्वारा कल्याणपुर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल कार्रवाई करते हुए 38 चापाकल और 118 शौचालयों का निर्माण किया गया है। जिसके कारण क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित लोगों को पेयजल और शौचालय की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता है, इस संबंध में, पीएचईडी विभाग के कनिष्ठ अभियंता महेश प्रसाद ने कहा कि विभाग के निर्देश पर कुल 38 चापाकल कल्याणपुर में 118 शौचालयों की व्यवस्था की गई है।

जिसके कारण बाढ़ प्रभावित लोगों को पीने के पानी और शौचालय की समस्याओं से नहीं जूझना पड़ता है, वही अधिकारी अभय पद दास ने बताया कि बाढ़ पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है। यदि बाढ़ पीड़ितों को कोई समस्या है, तो तटबंध पर उनकी प्रतिनियुक्ति की समस्या बताएं, बाढ़ पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान की जाएगी।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial