समस्तीपुर: बच्चे को जन्म देने के बाद, पैसा के लालच में महिला का किया ऑपरेशन, अधिक रक्तस्त्राव से महिला की मौत, अस्पताल छोड़ भागे प्रबंधक

समस्तीपुर जिलें के विभूतिपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ब्लॉक चौक स्थित निजी अस्पताल श्री साई हेल्थ केयर में बुधवार को डॉक्टरों ने पैसों के लालच में आकर एक महिला की अनावश्यक ऑपरेशन कर मौत के घाट उतार दिया। घटना के बाद अस्पताल कर्मियों के द्वारा महिला के शव को उसके घर पर छोड़ कर वहाँ से भाग निकलने के आक्रोशित ग्रामीणों ने अस्पताल पर पहुच कर अस्पताल कर्मियों को जमकर पीटा लेकिन अस्पताल प्रबंधक स्थिति को भापते हुए बबाल से पहले अस्पताल छोड़ भाग निकला।

विभूतिपुर की ताजा खबर

मृत महिला की पहचान विभूतिपुर प्रखण्ड के चोंचाही गाँव के वार्ड संख्या 13 निवासी अजय कुमार सिंह की पत्नी रिंकू देवी के रूप में की गई है। प्राप्त जानकारी अनुसार महिला को प्रसव पीड़ा होने के कारण 21 जून को किसी बिचौलिये के कहने पर महिला को श्री साई हेल्थ केयर में भर्ती करवाया गया था एवं 21 जून की रात्री को ही महिला ने एक बच्चे को जन्म दे दिया। महिला का प्रसव हो जाने के बाद जब डॉक्टरों को ज्यादा का बिल बनाने का मौका नहीं मिला तो पैसा के लालच में आकार महिला का पेट खोलकर ऑपरेशन कर दिया।

Join Telegram channel

ऑपरेशन करने के बाद महिला को रक्तस्त्राव अधिक होने लगा जिसके कारण प्रसूत महिला की मौत हो गई। महिला के मौत के बाद डॉक्टरों एवं प्रबंधकों का पसीना छूटने लगा। जिसके बाद अस्पताल प्रबंधक ने महिला के स्वजनों से महिला की मृत्यु की बात छुपाकर बाकी के बचे हुए पैसे चुकाने के लिए कहा एवं स्वजनों को महिला के पास जाने से भी रोक दिया। जैसे ही महिला के स्वजन अस्पताल से निकल कर घर गए इसी बीच में महिला का शव उसके घर पर छोर कर अस्पताल कर्मी भाग आया।

जिसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने पहले तो अस्पताल पर पहुच कर अस्पताल कर्मियों को जमकर पीटा फिर उसके बाद सिंघीया-खोकसाहा सड़क को जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जब इस घटना की जानकारी पुलिस को दी गई तो पुलिस भी लापरवाही बरतते हुए दिखी जब ग्रामीणों ने काफी देर प्रदर्शन करते रहे जिसके कारण यातायात बाधित हो गया। उसके बाद पुलिस घटना स्थल पर पहुची एवं ग्रामीणों के द्वारा अस्पताल प्रबंधक को गिरफ्तार करने की मांग को लेते हुए भीड़ को समझा बुझा कर शांत कराया गया तब जाकर यातायात सामान्य हो पाया।

वही स्थानीय लोगों के द्वारा बताया जा रहा है की यह अस्पताल इस तरह की घटना को कई बार अंजाम दे चुका है एवं गैरकानूनी ढंग से अस्पताल का संचालन कर रही है। अस्पताल प्रबंधक मरीजों को फंसा कर लाने के लिए कई दलाल सेट कर रखे है जब दलाल कोई मरीज को उसके यहां लेकर जाता है तो वह दलाल को भी कमीशन देता है और साथ में मरीज को काफी मोटा रकम का बिल बनाकर देते है। इस तरह से अस्पताल गैरकानूनी रूप से संचालन कर रही है एवं लोगों से पैसा लूट रही है। घटना को लेकर पुलिस ने बताया है की पीड़ित परिवार के द्वारा प्राथमिकी दर्ज करवाने पर उचित कारवाई की जाएगी।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial