समस्तीपुर ब्रेकिंग: उपमुखीया द्वारा युवक को गोली मारने के बाद, मृतक पक्ष के लोगों ने उपमुखिया की पत्नी को पीट-पीट कर उतारा मौत के घाट, दो अन्य बुरी तरह घायल, तनाव का माहौल

समस्तीपुर ब्रेकिंग: समस्तीपुर जिलें के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र अंतर्गत आधारपुर पंचायत में 21 जून सोमवार की सुबह में मामूली जमीनी विवाद को लेकर आधारपुर पंचायत के उपमुखिया ने एक युवक को गोली मार दिया जिसके कारण युवक की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद मृतक के स्वजनों ने पुलिस को सूचित किया लेकिन पुलिस के काफी समय तक ना आने पर आक्रोशित मृतक के स्वजनो ने उपमुखिया के घर पर हमला कर दिया और घर में मौजूद तीन लोगों को पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया।

प्राप्त जानकारी अनुसार सोमवार की सुबह में आधारपुर पंचायत के उपमुखिया मो. हसनैन ने पलरू भगत के 30 वर्षीय पुत्र श्रवन कुमार को गोली मार कर हत्या कर दी। जिसके बाद श्रवन के घरवालों ने प्रतिरोध में उपमुखिया के घर और उसके द्वारा संचालित की जाने वाली खादी भंडार चौक स्थित CSP केन्द्र पर हमला बोलते हुए सभी चीजों को आग के हवाले कर दिया। साथ ही साथ उपमुखीया के कार को भी आग के हवाले कर दिया।

Join Telegram channel

घटना का वजह बताया जा रहा है की उपमुखीया ग्राहक सेवा केंद्र का संचालन करता है एवं साथ साथ जमीन खरीद बिक्री का भी काम करता है जिसमें श्रवण कुमार भी उसी के साथ काम करता था। कुछ दिनों से उपमुखीया एवं श्रवण कुमार के बीच कारोबार को लेकर विवाद चल रहा था। लेकिन सोमवार की सुबह विवाद काफी बढ़ गया जिसके बाद उपमुखीया ने श्रवण को गोल मार कर हत्या कर दिया। घटना को अंजाम देकर उपमुखीया फरार हो गया।

घटना में उपमुखिया तो बच कर निकल गया लेकिन उसके परिवार वालों को भीड़ के हत्थे चढ़ना पड़ गया और ईस घटना में मृतक पक्ष के लोगों द्वारा उपमुखीया की पत्नी, भतीजा और एवं चाचा को बुरी तरह से पीट दिया गया। इस पिटाई के कारण उपमुखिया की 35 वर्षीय पत्नी सनौव्वर आलम की मौके पर ही मौत हो गई। भतीजा मो अनवर एवं उसके 60 वर्षीय चाचा नूर आलम को बुरी तरह से पीट दिया गया जिसके कारण दोनों की स्थिति गंभीर बनी हुई है एवं दोनों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

साथ ही साथ उपमुखीय के द्वारा संचालित की जाने वाली ग्राहक सेवा केंद्र को भी आग के हवाले कर दिया गया जिसके कारण ऊसमें मौजूद सारी चीजें धु धु कर जल गई। साथ जो भी घर पर बचा हुआ समान था उसे मृतक पक्षों के द्वारा सड़क पर लाकर उसे जला दिया गया एवं सड़क को जाम कर दिया गया। घटना के बाद से गाँव में तनाव का माहौल बना हुआ है जिसके कारण समस्तीपुर जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने खुद घटनास्थल पर पहुच घटना का जानकारी लिया एवं भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है ताकि आगे विवाद ना बढ़ सकें।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial