समस्तीपुर: मुखिया जी की मेहरबानी, विकास की गंगा बहते-बहते एक महिना पहले बनी नाली भी बह गई थोड़ी सी बारिश के पानी में

मुखिया जी की मेहरबानी: समस्तीपुर जिलें के सरायरंजन प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत अख्तियारपुर पंचायत के वार्ड संख्या आठ में मुखिया जी की विकास की गंगा बहते बहते उनके द्वारा निर्माण करवाया गया नाली भी बह गया। एक तो बिहार में मुख्यमंत्री के द्वारा गली नली योजना के तहत पक्की सड़क और नाली बनवानी है वह नहीं के बराबर बन रहा है और यदि बनवाया भी जा रहा है तो वह एक से दो महीने अधिकत छः महीने में टूट कर बह जा रहा है।

मुखिया जी की मेहरबानी

भले ही काम ठीक ढंग से हो या ना हो लेकिन कार्य करवाने वाले प्रतिनिधि हो या कोई पदाधिकारी हो उनको अपना जेब भर जाना चाहिए बस हो गया विकास। कुछ इसी तरह का मामला सरायरंजन प्रखंड के अख्तियारपुर पंचायत में देखने को मिला है जहां विकास की गंगा में एक महीना पहले बनकर तैयार हुए पुलिया धारा को बर्दास्त नहीं कर सकी और लूट पाट की भेंट चढ़ गई।

Join Telegram channel

मनरेगा के तहत निर्माण करवाया गया यह नाली में बताया जा रहा है की घटिया किस्म के सिमेन्ट का प्रयोग किया गया था जिसके कारण यह थोड़ा सा बारिश के पानी को भी नहीं झेल सका और पानी के साथ बह गया। साथ ही साथी मुखिया के प्रति लोगों में काफी गुस्सा है ऐसा बताया जा रहा है क्योंकि यह कार्य ग्राम पंचायत के द्वारा ही सम्पन्न हुआ है।

यह हाल सिर्फ यही का नहीं बल्कि बिहार के हरेक पंचायत का है। घटना के बारे में उच्चाधिकारियो को भी सूचित किया जाता है तो कार्यवाई का भरोसा देकर बात को टाल दिया जाता है। इससे यही प्रतीत होता है की लूट घसोट करने में उच्चाधिकारियों का भी हाथ है जिसके कारण वे किसी तरह की कार्यवाही नहीं करना चाहते है।

प्रेषक: संजीव कुमार ईन्कलाबी

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial