समस्तीपुर: सरकार को यातायात नियमों पर सख्ती बढ़ाने के लिए नए कानून लाने पर विचार करना चाहिए- संजीव

समस्तीपुर-रोसड़ा पथ पर विशनपुर चौक के पास मंगलवार की देर शाम हुई सड़क दुर्घटना में हुई 03 लोगो की मौत पर राजद पर्यावरण प्रकोष्ठ के निo प्रदेश अध्यक्ष संजीव कुमार राय ने गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि विगत वर्षो में समस्तीपुर जिला सहित सम्पूर्ण प्रदेश में सड़क दुर्घटनाओं का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है जो बेहद चिंताजनक है। उन्होंने कहा कि देश में सड़क दुर्घटना कोरोना महामारी से भी बड़ी समस्या है।

समस्तीपुर

उन्होंने बताया कि सड़क मंत्रालय के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2020 में देश में कुल 3,66,138 सड़क हादसे हुए है। देश में सड़क दुर्घटनाओं के कारण रोजाना 415 लोगों की मौत होती है, जो दुनिया में सबसे अधिक आकडा है। भारत को सड़क दुर्घटनाओं के चलते सड़क सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 3.14 प्रतिशत के बराबर नुकसान उठाना पड़ता है। राजद नेता ने बताया कि सड़क दुर्घटनाओं के रोकथाम के लिए सरकार को इसकी ओर गम्भीरतापूर्वक अपेक्षित पहल करना चाहिए।

Join Telegram channel

उन्होंने लोगो से अपील किया कि सदैव अपनी बाई ओर वाहन चलायें, पैदल चलते समय फूटपाथ का उपयोग करें, ग्रीन सिंग्नल पर ही अपना वाहन आगे बढ़ाएं, गलत दिशा से कभी भी ओवरटेक न करें, वाहन चलाते समय मोबाइल पर कभी भी बात न करें, पैदल चलने पर सड़क पार करते समय दोनों तरफ देखकर ही पार करें, यू टर्न लेते समय इंडिकेटर का प्रयोग करें, वनवे में कभी भी विपरीत दिशा से वाहन चलाने की प्रयास न करें, वाहन हमेशा ही निर्धारित गति से चलायें, रात में वाहन में डीपर का प्रयोग करें।

हाईवे पर चलते समय अपनी लेन में रहें, यही सब छोटी छोटी बातें है जिन पर ध्यान देकर हम दुर्घटनाओं को रोक सकते है। इसके अलावा हमें बच्चों को आरम्भ से ही सड़क पर चलने के नियमो से परिचित करवाते रहना चाहिए। इसके लिए यह जरूरी है की पहले हम स्वयं सुरक्षित रहते हुए चलना सीखे। लेकिन होता ये है की हम केवल सड़क सुरक्षा सप्ताह या माह मनाकर अपनी जिम्मेदारियों की इतश्री कर लेते है और उसे व्यवहारिक धरातल पर नहीं लाते। सरकार को यातायात नियमों पर सख्ती बढ़ाने के लिए नए कानून लाने पर विचार करना चाहिए।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial