DM: यदि वार्ड मेम्बर से नल जल, गली-नाली का कार्य नहीं हुआ तो उपमुखिया से करवाई जाएगी

समस्तीपुर के जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने शनिवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की है।

शनिवार को जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने अनुमंडल के सभी प्रखंडों में चल रही योजनाओं के बारे में समीक्षा की। इसके दौरान मुख्यमंत्री पेयजल निश्चय योजना और मुख्यमंत्री ग्रामीण गली-नाली योजना के बारे प्रखंडवार समीक्षा किया।

कार्य कि धीमी गति को देखते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि जिस किसी वार्ड में वार्ड सदस्य कार्य नहीं कर रही है उस वार्ड में उप मुखिया से कार्य करवाई जाए।

Join Telegram channel

जिलाधिकारी ने दाखिल खारिज, परिमार्जिन, न्यायालय के लंबित वाद, सरजमीनी सेवा, विधवा पेंशन, निशक्तता पेंशन, वृद्धा पेंशन, कबीर अंत्येष्टि एवं कई अन्य योजनाओं की समीक्षा की।

बैठक में एडीएम विनय कुमार राय, डीटीओ राजेश कुमार सिंह, डिआरडीए डायरेक्टर पूनम कुमारी, एसडीओ सदर एके मंडल, डीपीआरओ ए एन सिंह के साथ सभी बिडीओ और बीएसओ मौजूद थे।

ठनका से मरने वालों को 24 घंटों के अंदर अनुदान की राशि देने का निर्देश

बैठक में जिलाधिकारी ने बाढ़ को देखते हुए पशु कैंप, नावों, मोटर बोट एवं बोट चालक की संख्या की समीक्षा की। ठनका या फिर अन्य प्राकृतिक आपदाओं से मृत्यु होने पर 24 घंटे के अंदर अनुदान की राशि देने का निर्देश दिया है।साथ ही सभी बीडीओ और सीओ को मुख्य पथो पर बाईपास बनाने के लिए स्थान चिन्हित करने के लिए कहा गया है।

आवास लाभार्थी को पहली किस्त की राशि देने का निर्देश।

डीएम ने सभी बीडीओ को आवास योजना की लंबीत पहली किस्त की राशि लाभुकों को जल्द से जल्द देने का निर्देश दिया है। साथ ही जल जीवन हरीयाली योजना के कारण भूमिहीन और विस्थापित लोगों को वासस्थल क्रय सहायता योजना के अंतर्गत सहायता राशि देने की समीक्षा करते हुए कई आवश्यक निर्देश दिया गया।

और पढ़ें।

Like & Follow for latest Updates| सस्ते रेट में यहाँ पर विज्ञापन के लिए संपर्क करें या व्हाट्सप्प करें: +918674830232

टेलीग्राम चैनल से जुडने के लिए यहां क्लिक करे


HTML tutorial